Apan Jayal

जायल में आपका हार्दिक स्‍वागत दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं


शनिवार, 24 सितंबर 2016

देश भर में सबसे महंगी हुई राजस्थान में बिजली

http://apnajayal.blogspot.in/

प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं पर सरकार की मार लगातार बढ़ती जा रही है। अगर पड़ोसी राज्यों से तुलना की जाए तो राजस्थान इकलौता ऐसा प्रदेश बन गया है, जहां मध्यमवर्ग के परिवारों को भी लगभग 7 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से बिल का भुगतान करना पड़ रहा है। 
नए आदेशों के अनुसार को सितम्बर माह से बिजली उपभोग राशि का भुगतान नई दरों से करना होगा। बिजली कंपनियों ने गठन के बाद सातवीं बार बिजली दरों में बढ़ोतरी की है। यही नहीं पड़ोसी राज्यों में तुलना में प्रदेश में बिजली दरों में प्रदेश अव्वल नंबर पर आ गया है। 
बिजली दरों के मामले में पड़ोसी राज्यों में श्रेणीवार बिजली दरों की तुलना में प्रदेश में बिजली दरें सर्वाधिक हो चुकी हैं और बिजली कंपनियों के वित्तीय घाटे में हो रही लगातार बढ़ोतरी व उदय योजना में मिले अनुदान की शर्तों के अनुसार बिजली कंपनियों को मिली छूट से आगामी समय में फिर से बिजली दरों में बढ़ोतरी होना भी लगभग तय है। 
गलती कंपनियों की, भुगते जनता
बीते कुछ वर्षों में बिजली कंपनियों ने विद्युत उत्पादन कर रही कंपनियों से महंगी दरों पर बिजली खरीद की, जिसके चलते करोड़ों रुपए का अतिरिक्त भार कंपनियों पर पड़ा है। वहीं अब घाटे और वित्तीय भार की भरपाई कंपनियां प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं से कर रही हैं। प्रदेश में राष्ट्रीय औसत से ज्यादा दरों पर हो रही बिजली खरीद बिजली कंपनियों के संचित घाटे को बढ़ा रही है वहीं छीजत और चोरी रोकने में नाकाम रही बिजली कंपनियों ने घाटे की भरपाई बिजली उपभोक्ताओं पर डालने की कार्यशैली अपना ली है। 
छीजत- चोरी ने बढ़ाया घाटा 
प्रदेश की बिजली वितरण निगमों में अब भी बिजली छीजत का ग्राफ 25 से 35 फीसदी तक बना हुआ है वहीं बिजली चोरी मामले में कई जिलों में छीजत 35 फीसदी तक रही है। राज्य सरकार के निर्देशों के बावजूद बिजली कंपनियां चोरी व छीजत रोकने में प्रभावी कार्रवाई करने में नाकाम रही हैं। इसके उलट बिजली कंपनियों ने चोरी छीजत पर लगाम कसने के लिए संबंधित क्षेत्र के अभियंताओं के वेतन भत्ते में कटौती की तलवार भी लटकाई लेकिन नतीजा सिफर रहा है। 

बिजली की बढी दरों का यूथ कांगेस ने किया विरोध

जायल में युवा कांग्रेस की बिजली दरों के विरोध में बैठक रखी गई। बैठक में बढ़ी हुई बिजली दरों का विरोध किया गया तथा कहां कि इससे किसान व आम जनता पर महंगाई के इस दौर में आर्थिक स्थिति और कमजोर होगी। इस मौके पर युवा नेता झूमरराम डूकिया ने कहा कि सरकार की बिजली की दरें को बढ़ा रही पर किसानों के लिए मूंग का समर्थन मूल्य नहीं बढ़ा रही है। वहीं जिला महासचिव हनुमान बांगड़ा ने कहा कि सरकार महंगाई के मुद्दे पर पहले से ही विफल है। एक तरफ तो बिजली कटौती कर रही है और दूसरी तरफ  बिजली की दरे बढा रही है। बैठक में जिला महासचिव राजेश रलिया, रूपाराम गोस्वामी, राधेश्याम शर्मा, जगदीश कुड़ी, रिद्धकरण डूकिया आदि उपस्थित रहे।

भामाशाह सुविधा शिविर 26 को जायल में, 27 को सुरपालिया व 28 को बडी खाटू में

भामाशाह समस्या समाधान शिविर पंचायत समिति मुख्यालय जायल में 26 सितंबर को एवं सुरपालिया में 27 खाटू बड़ी में 28 सितम्बर को होगा। शिविर में भामाशाह योजना से लाभ हस्तांतरण की समस्याओं शंकाओं को दूर किया जाएगा। शिविर में सीडिंग, नए भामाशाह एवं भामाशाह सदस्य भी जोड़े जाएंगे। शिविर में माइक्रो एटीएम द्वारा नकद लाभ का हस्तांतरण भी किया जाएगा। 

बुधवार, 21 सितंबर 2016

कैंडल मार्च निकाल जताया विरोध, लगाए पाकिस्‍तान मुर्दाबाद के नारे

जायल में उरी हमले में शहीद हुए सैनिकों की श्रद़धांजलि में कैंडल मार्च निकाला गया, मार्च के दौरान पाकिस्‍तान मुर्दाबाद के नारे लगाए गए एवं सरकार द्वारा पाकिस्‍तान के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की
इस मौके पर सुरेन्‍द्र पंवार, सीताराम लोमरोड, छात्रसंघ अध्‍यक्ष हरेन्‍द्र रोज, संदीप चतुर्वेदी, सुरेेश लोमरोड, राजेन्‍द्र लोमरोड, रामनिवास बासट सहित कई युवाओं ने बढ चढकर भाग लिया

कमल किशोर रोज बने व्‍याख्‍याता

गुजरियावास की राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय  में कार्यरत शिक्षक कमल किशोर रोज का भौतिक विज्ञान व्याख्याता पद पर हुआ चयन। कानसिंह शेखावत, सहदेव लोमरोड़, सहदेव बिडियासर, सरोज चौधरी, संतोष गुर्जर, लक्ष्मी पंवार, सहीराम बेड़ा, मांगीलाल लोमरोड़, धुलाराम लोमरोड् ने जताई खुशी

मंगलवार, 20 सितंबर 2016

लकवाग्रस्त इंसान आता है, पर पैरों पर चल कर जाता है

राजस्थान की धरती के इतिहास में चमत्कार के अनेक ऐसे उदाहरण भरे पड़े हैं जिसके सामने विज्ञान भी नतमस्तक है। ऐसा ही उदाहरण नागौर से 40 किलोमीटर दूर स्तिथ ग्राम बुटाटी में देखने को मिलता है। यहां एक ऐसा मंदिर है, जिसके बारे में कहा जाता है कि अगर यहां कोई लकवाग्रस्त इंसान आता है, तो अपने पैरों पर चल कर यानि बिलकुल ठीक होकर वापस जाता है।
आस्‍था का प्रतीक श्री चतुरदासजी महाराज का मन्दिर, बुटाटी

इस मंदिर को 'चतुरदास जी महाराज' मंदिर के नाम से जाना जाता है। यहां कोई पंडित या डॉक्टर नहीं बल्कि, यहां लगातार 7 दिन पीडि़त व्यक्ति को मंदिर की परिक्रमा करनी होती है। इसके साथ ही वहां मौजूद हवन से भभूति लेकर शरीर पर लगानी होती है। जिससे ही मरीज़ की हालत में सुधार आने लगता है।
लगभग 5000 सालों पुराना इतिहास समेटे इस स्थान पर पहले संत चतुरदास जी तपस्या करते थे। घोर तपस्या कर उन्होंने रोगियों को रोगमुक्त करने की सिद्धि प्राप्त की थी। इसी कारण लोगों की मान्यता इस मंदिर से जुड़ गई।
जो लोग यहां इलाज करवाने आते हैं उनके रहने और खाने की व्यवस्था निशुल्क है। इस मंदिर से कई लोग ठीक होकर गये हैं। भक्तों द्वारा दिए दान से ही उनके रहने और खाने की व्यवस्था की जाती है।

रैली निकाल, दिया स्‍वच्‍छता का संदेश

 जागरूकता

फरडोद में स्‍वच्‍छ भारत मिशन एवं निराला नागौर के तहत रैली निकालकर ग्रामीणों को स्‍वच्‍छता के लिए प्रेशर किया गया इस मौके पर सरपंच संघ जिलाध्‍यक्ष एवं फरडोद सरपंच हनुमानराम फरडोदा ने भाग लिया एवं ग्रामीणों को शौचालय बनाने के लिए प्रेेरित किया

रविवार, 18 सितंबर 2016

प्रतिभा सम्‍मान समारोह आज

रावणा राजपूत समाज का तहसील स्तरीय प्रतिभा सम्मान समारोह आज 18 सितम्बर को बड़ी खाटू में होगा। तहसील अध्यक्ष रणवीर सिंह सिसोदिया ने प्रतिभा सम्मान समारोह में तहसील स्तरीय प्रतिभाओं सहित मेरिट में स्थान प्राप्त करने वाली जिलेभर की प्रतिभाओं का सम्‍मान किया जाएगा

9 विद्यार्थी राज्य टीम में.....किया जायल का नाम रोशन

कल्पना चावला इंटरनेशनल स्कूल जायल के 14 वर्षीय हॉकी टीम में कुल 9 विद़धार्थियों का चयन हु़आ जिसमें  5 छात्र 4 छात्राओं का राज्यस्तरीय टीम में चयन हुआ है। टीम में कन्हैयालाल, हरीश पारीक, महेश ज्याणी, ईश्वर सिंह मोहित एवं छात्रा टीम में नेहा राठौड़, साजिया, रेखा जांगिड़ मनीषा बुगासरा का चयन हुआ है।